जीतन राम जी नीतीश जी ये कीजिये

17 comments:

Rachit G said...

दोस्तो, नरेन्द्र मोदी की जीत के बाद हमारी नीतीश / रविश पांडे मंडली की हालत गंगाजल फिल्म के दरोगा मंगनी राम जैसी हो गई है, जिसे पता चल गया हो कि अमित कुमार (अजय देवगन) ही तेजपुर के एसपी साहब हैँ-- "भारी मिस्टेक हो गया सर, एकदम बलंडर हो गया" .

vishwas karan said...

ravish babu ki bat maniye......modi se mukabala kijiye..............ab to modi ko harana hi hai..pakka.................................ravish babu gyan dete rahe jitan bhai ko..ho sakta hai billi ke bhagya se chhinka tute........mar pade is sasure modi ko...dimag ka dahi banay dihis sasura

vishwas karan said...

ravish babu ki bat maniye......modi se mukabala kijiye..............ab to modi ko harana hi hai..pakka.................................ravish babu gyan dete rahe jitan bhai ko..ho sakta hai billi ke bhagya se chhinka tute........mar pade is sasure modi ko...dimag ka dahi banay dihis sasura

Rachit G said...

क्या इसीलिए जीतन राम मांझी को नीतीश ने मुख्यमंत्री बनाया?
राज्य के मुख्यमंत्री को बैठकों में प्रधानमंत्री से हाथ मिलाना पड़ता है, और सम्मान करना पड़ता है।
लेकिन मोदी को सलाम न ठोंकना पड़े इसलिए उन्हों ने यह दांव खेला।
मलकिनी सोनिया की तरह परदे के पीछे से राज नितीश का ही चलेगा।

Sanjay Jatav said...

रविश पांडे का पत्रकार के रूप में सम्मान करता हूँ, साफगोई के लिए जाने जाते है,
. कल उनका दिमागी संतुलन बिगड़ता देख दुख हुआ. कृपया धैर्य बनाए रखें, भारत की पत्रकारिता में अभी भी आपकी प्रासंगिगता है.

Jitendra sharma said...

Sab ke alag alag tark aur vichar.
Dekhte hai Aage hoga kya?

s negi said...

Ravish ji
I read all your blogs but never comment but after this election result i thought i also write something. In this election all the people talk about the failure of congress govt. but not a single party or media raise the failure of BJP on these 10 yrs. In parliamentary democracy opposition work is the check & balances on govt policy & decision's,can BJP fulfill their duty the leader of opposition is called as shadow prime minister where is leader of opposition. In every six month jaitley, shushma swaaraj, advani go to the rashtrapati bhavan thats all their duty of principal opposition is completed.I hope you read my comment & write something about it as well

Rashmi R said...

Mujhe dukh hai ki Bihar ke logo ne apne ke ache CM ka saath nahi diya.

Mujhe ek bhi dukh hai ki desh le logo ne ache candidates ka sath nahi diya. Is bar 34% MPs criminal background se aaye hai.

Is bar sirf vote Modi ke nam pe di hai. Sirf Punjab, Bengal, Tamilnadu aur Kerala ke logo ne Modi ko vote nahi diya.

Ek bat sochne ki hai jeh sab states pichde states me nahi aate hai.

Roushan Mishra said...

उम्मीद है जागेंगे

Rajeev said...

अपने जातिये राजनीती से फुर्सत मिलेगी तब न नितीश जी कुछ सोचेंगे। वे लग रहा है सोच रहें है की ५ साल तो विकास कर दिया अब जिंदगी भर उसका फसल काटें। जैसा की लालू जी ने किया सामाजिक परिवर्तन ला कर। जनता विकास मांग रही है अपने शासन तन्त्र को सही करेंगे तभी कुछ उपाए है वरना जिस कर्मनीति शास्त्र से मोदी चल रहे है दुकान बंद ही हो जायेगा उनका।
राजनीतिक अपराधीकरण एक दिन में खत्म नहीं हो सकता इसको खत्म होने में थोरा टाइम लगेगा जैसे जैसे जनता जागेगी वैसे वैसे ही यह खत्म हो सकता है। जिन राज्यों में बीजेपी नहीं जीती उसका कारण सिर्फ राजनीतिक आधार का न होना या फिर राज्यसरकार के प्रती जनता का गुस्सा है। वैसे बंगाल कोई डेवलप्ड स्टेट नहीं है। तमिलनाडु ने dmk और कांग्रेस को भ्रस्टाचार के कारन ही नकारा है। इन दो स्टेट में बीजेपी का खाता खोलना ही बरी जीत है।

SHIVANI SRIVASTAVA said...

CM chahe jo koi bhi ho ab janta ko koi "for granted " nahi le sakta hai.

vinay kumar said...

रविश जी, कैसा लग रहा है विकास मानवों का कमेन्ट पढ़कर. आपको घोषित कर देना चाहिए कि भारत माता की धरती से सदियों का पाप धुल गया है. जाति-व्यवस्था का अंत हो गया है. अब यहाँ कोई आदिवासी,दलित, पिछड़ा, अगड़ा नहीं है.सभी भारत माता के संतान एक सामान है.किसी को अपनी बहन-बेटियो की दलित आदिवासी पिछड़ों से विवाह में कोई आपत्ति नहीं है.आखिर एक आदर्श समाज तो यही होता है और जबकि ऐसे समाज का प्रादुर्भाव हो गया है तो आप भी इसे पीछे धकेलने में लगे हुए हैं.देखिये रविश जी, हमे विकास के चरम को छूना है और आप हैं की हमें बांटने की बामपंथी कोशिश कर रहे हैं. आपको समझना पड़ेगा कि हमारे समाज में कोई अनर्विरोध नहीं है."रामराज्य" आ गया है और आपको भी नतमस्तक होकर हर-हर मोदी घर-घर मोदी का जाप शुरू कर देना चाहिए.आपको इस बात से क्यूँ ऐतराज है की नितीश के विरोध में जो कम्मेन्ट्स अभी आ रहे हैं वो कौन लोग (जातीय) हैं. आखिर यही तो प्रबुद्ध लोग हैं जो विकास का मायने जानते हैं. इनके पास इसका कापीराईट है और जब ये कह रहे हैं तो आप को मान लेना चाहिए. भैया, मेरी आँखे खुल गई है और मैंने अपने सारे पूर्वाग्रह छोड़ दिया है. आप भी छोड़ दीजिये.

ramchandra tiwari said...

nice .

Kriti Bhargav said...

After going thru comments from BJP/MODI supporters here, the kind of language they are using..do hell with VIKAS(development)....if this is the kind of teaching BJP and its associates religious groups are giving to youth, followers and supporters of its own ..I'll choose development in second position and peace in first.I'll Like silent person over a loud and Out spoken. With this kind of conversations and dialogues ..we are heading towards a worst kind of society.

Bhupesh said...

Huzoor, Rachit G ne bada he bura kiya, patanahee kahan se apka jati praman patra (pandey) pa gaye. in mahoday ki jaroorat hathi wali behan ji ko thi kisi ki jat pata karne ke liye. hamare ek mitra apke tewar ke adhar per apko SC ghoshit kiye hue the. main bhi merit ka myth dhwast hone se khush tha, kintu is achhe ptrakar ko bramhan paker fir se hatash hun

Vicky Shah said...

"Sunaa hai k bahut kuch ho gaya hai aadmi.
Haan Magar Insaan Na Ho Saka."
Hadh... Hai Sahab is Jaat Paat Ko

Aditya Singh said...

Hello Mr. Ravish... 5-6 din baad aaj aapka ye qusba wala blog page khola hun... kholne ki iksha nhi hoti hai ab... bdw ye mahsus kiya ki aapki image ab bahut jyada dhumil ho gayi hai... honi v chahiye thi aur abhi isse v jyada hogi... as a media person u should attack on corruption, illiteracy, jobless youths, etc. but u totally focused at Modi ko roko... jakar dekhiye modi ke activeness ko... lal bahadur shastri ke level ke... aur aap inki jagah nitish kumar, mulayam,mayawati ko favour kr rhe h abhi tak... shayad aap chahte h bharat garibi me dooba rhe,, taaki aap jaisi soch wale press k log & narrow-minded politician jaat-paat, secularism ka nara lagakar apni dukan chala sake... shame on u man... sudhar jaiye warna NDTV ke khasta-haal ki zimmedari aap par hi aayegi...main bihar se hun aapki tarah,, forward caste me aata hun,, lekin ek baar v jaat-paat soche bina nation improvement ka sochkar narendra modi ko vote kiya(doesn't matter that he is among obc)... qki modi bakiyo se achi soch, ummid aur takat rakhte h baaton me,, aur aaj bas unse hi kuch ummid h...