नक़ली मोदी

दुनिया में हर किसी का डुप्लीकेट है । तेंदुलकर से लेकर संजय दत्त का । नरेंद्र मोदी का भी है । बनारस में इस नक़ली मोदी की काफी पूछ है । इनका हाव भाव देखकर कोई चौंक जाए कि एकबैग नरेंद्र मोदी कहाँ से आ गए । वो भी बिना सुरक्षा के ।


आपका नाम अभिनंदन पाठक है और आप सहारनपुर के रहने वाले हैं । खुशी खुशी अपना नाम अभिनंदन मोदी कहने लगे हैं । असली मोदी की तरह सीरीयस लगे । मैंने मज़ाक़ किया कि भई सात रेस कोर्स रोड प्रधानमंत्री निवास में आप मत चले जाना रहने । उनके साथ के लोगों ने तो हंस दिया मगर नक़ली मोदी असली बने रहे ! 

और ये बच्चा तो मोदी का मुखौटा पहन कर असली मोदी से कम नहीं लगता । बंगाली टोला में खाकी पैंट पहनकर लगा कि इसका बालरूप वयस्क हो गया है । 

7 comments:

abhishek nagwanshi said...

किसी का मुखौटा हो या किसी की टोपी कम से कम इस बात की पुष्टि हो चुकी हैं कि बच्चों का मन इनसे बहल रहा है।
शुभ रात्री🙌🙋🙏

Jitendra sharma said...

Kya baat hai sir ji bahut hi badhiya.

Gopal Girdhani said...

मैनेजमेंट छात्रों के लिए चुनावों के बाद काफी कुछ छोड़ रखा है मोदी ने !

SHIVANI SRIVASTAVA said...

Ab to had hi hogayi.Kahi Modi ji jagah yeh rally to nahi attend karenge na.

shashi ranjan kumar said...

एकबैग नरेंद्र मोदी कहाँ से आ गए । वो भी बिना सुरक्षा के ।

shashi ranjan kumar said...

एकबैग नरेंद्र मोदी कहाँ से आ गए । वो भी बिना सुरक्षा के ।

shashi ranjan kumar said...

एकबैग नरेंद्र मोदी कहाँ से आ गए । वो भी बिना सुरक्षा के ।