कन्नड़ उड़ीया में आम आदमी

अलग अलग भाषा बोली के हिसाब से आम आदमी का भी प्रचार चल रहा है । उड़ीया टी शर्ट और कन्नड़ टोपी में कार्यकर्ता दिखे । 


44 comments:

govind ballav said...

Why don't you write "aam aadmi party" instead of "aam aadmi".? How can u say aam aadmi is AAP...?

Unknown said...

govind dunt go with words..his intention is same like d way u interperated...it cud b done mistakenly wid words...

mishra babloo said...

Sir Ji, uske hath me khajadi hai, matlab vo party ka pracharak hai, jo sayad udisha se gya hoga. Jaise kafi log bihar, gujrat.........se aaye hai.

Ankur Jain said...

कुछ असर तो है पार्टी का..जिसकी आलोचना तो की जा सकती है पर अस्तित्व से इंकार नहीं किया जा सकता।

Sanjay Jatav said...

ब्रह्माण्ड के एकमात्र ईमानदार, अर्थात राजा हरिश्चंद्र के अंतिम अवतार उर्फ अरविन्द केजरीवाल ने कहा है कि वे नरेंद्र मोदी से खुली बहस करना चाहते हैं... यानी जो आदमी उन्ही की पार्टी के बिन्नी या अश्विनी उपाध्याय से बहस करने की हिम्मत नहीं जुटा पाया, वो मोदी से बहस करना चाहता है???


Sanjay Jatav said...

नरेंद्र मोदी के हर इंटरव्यू के बाद रवीश को मिर्गी के दौरे पड़ने लगते है ..दिल्ली के मित्रो इसे जूता सुंघाओ

Sanjay Jatav said...

केजरीवाल ने अपने एक ट्वीट के जरीए मोदी को खुली बहस के लिए आमंत्रित किया है ।
ठीक ऐसा हीं एक आमंत्रण केजरीवाल साब के लिए अभी तक पेंडिंग पड़ा हुआ है जो उनके हीं पूर्व साथी "बिन्नी" ने दिया था !!!!
मुझे लगता है कि अब मैं भी रोजर फेडरर को अपने आँगन में टेनिस का एक सेट खेलने की चुनौती दे ही दूँ... पिछले हफ्ते तेंदुलकर को भी मैंने चुनौती दी थी कि बड़ा खिलाड़ी बनता है, तो बगीचे में आ जा, मेरे दो ओवर खेलकर दिखा दे... ना तेंदुलकर आया, और ना फेडरर आएगा... दोनों आपस में मिले हुए हैं... डरते हैं मुझसे.

Jitendra sharma said...

Politics mein kabhi Kuch sudhar ho sakta hai kya?
Ya sirf ek dusre ki aalochna hi ho sakti hai.

Sanjay Jatav said...

चुनाव आयोग और रविश दल्ले में क्या समानता हैं ?

दोनों ही अपने आपको निष्पक्ष बताते हैं

रविश दल्ले और सनी लियोन में क्या समानता हैं ?

दोनों की इज्ज़त समान है

jitendra wane said...

FIXED INTERVIEW ME KYA? HAHAA

aayushi verma said...

Bjp ho ya congress....sab ne guru arvind se itna kuch le liya.....koi unki jubaan mein bhashan de raha hai......to kisi ne to dharne Ka mahasanskar bhi apna liya.....topi to aise sir pe sawaar hui mano topi na ho gaya .. yo-yo Ka gaana ho gaya..... ab to ek thank you bol do koi .....ya pm banane ke baad hi bologe ....?

Bhanu Fuloria said...

Ravish bhai.. Ye paid comments ki wajah se qasbe m wo maza nhi ara... Naam id badal badal kar wahi abhadrata. Ho saqta haii yah alag alag log b ho.. Par ye b ek trailer to de hi rahe hain bhavishya ka. :(

Ummid hi ki ja saqti hai ki 16 may k bad ye log kam se kam yahan ka mahaul kharab na karein. Bahut thaq paqa sada diya is bari k chunaw ne!

Sanjay Jatav said...

बहुत जल्दी आप किसी को पेड कह देते हो..ज़रा यह बताओ रविश पत्रकार का धर्म छोड़कर केजरी का प्रचार विचारधारा क चलते करते हैं या पैसे लेकर?

Rachit G said...

सुने हैं की की गुल पनाग मैडम भी गई हैं काशी मे अपनी मोटर साइकल लेकर ... उनका फोटुवा कब दिखेगा

Bhanu Fuloria said...

Dekho bhaiya fizul ki behes wali baa h ye to. Ab ravish bhai aapke perception ko beat nhi kar paa rahe hain to koi kya kare? Ab koi ho pasand karne layak to kya jbrdsti nafrat karein?

Waese b aap logo ne to DHARAM ka theka le rakha h.. Konsa asli hai, konsa sachha h, kon chod raha h, kon pakad raha h.. Ye sab to aap hi log declare karte hain.?

Sanjay Jatav said...

शायद यही लोकतंत्र की खूबसूरती है. आप मुझे पैड कह रहे हो मैं रविश को. आप हमको मोदिभक्त कहते हो हम आप को केजरी या रविश क अंधभक्ता. 16 को सब क्लियर हो जाएगा .मैं देश के जनता क निर्णय का स्वागत करूँगा और आप सब से भी यही उमीद करूँगा की आप भी उसका स्वागत करो चाहे नतीजे हमारी सोच क विपरीत क्यों ना हों

Sushil Sudan said...

किसी नेता ओर उसकी पार्टी का आचरण, उसके workers के व्यवहार में प्रतिबिंबित होता है! कुछ ऐसे ही आभास होता है जब भाजपा के गुर्गे कोई कॉमेंट लिखते हैं! इन्होने भी अपनी पढ़ाई, अपनी परवरिश को वैसे ही शर्मसार किया है जैसे की इनकी पार्टी ने अपनी विचारधारा को!

Sushil Sudan said...

कुछ लिखते या दिखाते है तो उसी वक़्त भाजपाई गुर्गों की नकारात्मक टिप्पणियों का आना ये दर्शाता है की यह केजरीवाल और उसकी पार्टी से किस कदर भयभीत हैं!

kalyan said...

NAMASKAR SIR

yah sun k acha nhi lga ki aap wapas tv me ja rhe hai...tv k bahar wale prime time tv k andar wale prime time se ache the aur jyada jinda v...fir v kya kre ab apko dekhna to tv k is par se v hai..

baki jo hai so haeye hai..

NAMASKAR

razaul rahman said...

qasba k mahaul me kuch log daily gandagi chhod jaa rhe h.....haan bhai hum Ravish k andhbhakt h.aapko kya pareshani h.....bakhsh do bhai....tum log qasba k waasi nhi ho...idhar ka vatavaran aapko suit nhi kar rha h.aap log koi baba k shivir me jaa k ilaaj karwaiye....shayad koi fayada ho jaye

Bhanu Fuloria said...

Bilkul sahi kaha sanjay ji. Hum to hamesha se manne ko taiyar h janmat ko or bilkul samman bhi kia hasya. Lekin ek baat ka dhyan rakhiyega ki janmat kisi ko clean chit to nhi hi deta. ! Bhakt a--ndhbhkti karne par aa jata h to dukh to hota h. Hum ravish ko appreciate karte hain kejriwal ko appreciate karte hain. Kayi bhakti bhi karte honge isme koi doray nhi h.

16 taarikh ka har kisi ko behad intezar rahega. Chaliye bhasha m sudhar dekh acha laga.. :)

Sanjay Jatav said...

Bhanu ji

koi niji samasya na mujhe Aap se hai naa Aap ko hum se hogi..hum sabhi desh ka bhala hee chatey hain..Mujhey lagta hai Modi ji kar saktey jain aap ko lagta hai Kejri ji kar saktey hain..Yah nirnay desh ke janta par chod diya hai.
Mai khud chahta hoon kejriwal sansad main ho..kyonki acchey log wahan hona chahiye..I would like to see him as leader of opposition.

Rahi baat paid comments kee yah toh aapko maanna chahiye is blog par comment karne k koi paisey dega kya????? Kitne log influnence hongey..???

Yah blog 1 madhyam hai apne vichar vyakat karne ka thats it..

Indra said...

BJP ne banaras mein ek dhancha taiyar kiya tha jise AAP and Kejriwal ne ander se khokhla kar diya hai.. BJP abhi bhi ise bahar se hi dekh rahi hai aur soch rahi hai ki Varanasi to hamari hai lekin jab 16 May ko ye dhancha tutega tab pata chalega ki humne Kejriwal ki taraf dhyan na de ke kitni badi galti ki aur isi ke chalte Modi ji Banaras se Haath dho baithe.. jo apne aapko bada balshali shamajh rahe the woh to fisaddi nikal gaye... Kejriwal ne chunauti di hai tu use nistha se nibha rahe hain.. apni taraf se har sambhav koshish kar rahe hain aur Modi ki hara kar hi dum lenge..

Kejriwal ki Modi ko bahas ki chunauti isisliye sahi hai kyunki Kejriwal aur Modi dono ek seat se chunav lad rahe hain aur dono ko apni side junta ke saamne rakhna chahiye... western countries mein ye tradition hai.. sab candidate apne agenda/plan junta ke samne rakhte hain uske baad junta chunti hai.. isme bada aur chhota koi nahi hota

Sanjay Jatav said...

केजरीवाल के रोड शो में जबरदस्त भीड़ कुल500 लोग हैं, 500 मीडिया वाले और 1000 पोलिस वाले और क्या जान लोगे भगोड़े की??

Rachit G said...

काँग्रेसियो और आपियो मोदी पर खोज करना बंद करो गधो इतना जानलो की वो तुम स.ब.का. बाप है ओर मोदी ने तुम सभी चूतियो को पागल कर दिया है रात को खाने से लेकर सुबह निकालते नहाने धोने हर टाइम बस मोदी ही मोदी इन चूतियो के दिलो दिमाक मे घूमता रहता है मोदी क्या करता है क्या खाता है किस कमरे मे रहता है क्या पहनता है उसकी बीवी क्या करती है वो किस जाती का है अरे मोदीे पर भोकने वाले कुत्तो मोदी की फिकर छोरकर अपनी बीवियो बहन बेटियो ओर बहुओ की फिकर करलो पता चले तुम गधो की पीठ पीछे वो किसी ओर के साथ अपना मुँह काला कर रही हो

Nitin Shrivastava said...

आप धोखा खा चुके हैं और बिजली का बिल बढ़ कर आ रहा है, बिल मत भरिये. चिंता न करें. 16 के बाद कटे कनेक्शन अवैध रूप से जोड़ने वाला फ्री हो जाएगा. दिल्ली चुनावों तक तीन महिने फिर वही तमाशा.

Nitin Shrivastava said...

वाह रे केजरीवाल दूसरों की चड्डी पहनकर पहले खुद ही खुजली पैदा कराओ। और खूब खुजाओ खूब खुजाओ। बिलकुल public place में आम आदमी की तरह खुजलाकर उसको भी सुर्खियाँ बनाओ। आज मोदीजी को गंगा आरती के कार्यक्रम को प्रचार बता रहा है। गद्दार कश्मीर को भारत से अलग करना, इशरत का चाचा बनना ये सब क्या तेरी गांधीगीरी थी।

Nitin Shrivastava said...

मुझे तो लगता है जी कि राहुल ने भी अम्बानी जी से पैसे लिए हैं बेवक़ूफ़ दिखने के लिए..यहाँ सब बिके हुए हैं..मेरी तो कोई औकात नहीं है जी..वरना मैं भी बिक जाता..

अरविन्द सर झाड़ू वाले.

Nitin Shrivastava said...

5 हज़ार लोगो की लाखों भीड़ के बीच केजरीवाल जी बनारस में रोड शो कर रहे हैं

Nitin Shrivastava said...

खुजली भक्त फिर पकड़े गए झूट फेलाते हुए.....जावेद आप पार्टी ने 2.52 pm tweet किया गुल पनाग पर हमला हुआ है ABVP की तरफ से वही दूसरी तरफ........गुल पनाग 4.30pm पर tweet करती है : मेने सुना है मेरे पर किसी व्यक्ति ने हमला किया है ये सब गलत है में सुरक्षित हूँ ।।

अब बोलो खुजली भक्तो कितने झूट और पकड़ोगे खुजली भक्तो के झूट झूट झूट सिर्फ झूट

razaul rahman said...

ravish sir kuch kijiye....ab bahut jyada apshabd likhe jaa rhe h....pehle to ek hi bhaukta tha....ab jamaat khadi hoti jaa rhi h aur jhund me bhaunk rhe h

razaul rahman said...

@sanjay jatav:sir agreed.....apke vichro se puri tarah sahmat....lekin vichar rakhne ka bhi ek tarika hota h ji....aapne nitin shrivastava jaise logon k baare me kabhi kuch nhi kaha.....ek baat bolu hamen modi ji se koi nafrat ho ya na ho lekin unke supporters se jaroor hone lagti h....aap apne uper na lijiyega

tapasvi bhardwaj said...

Abhi to sheela haari h...modi ab teri baari h....yendular,fedrar and MODI?dont compare apple with oranges

ajay said...

Binni and upadhyay are cheap. No comparision. Why you hate kejriwal so much and like binny upadhyay and modi? Ask yourself. Did you miss something?

Rajesh Amarnath Pandey said...

नमस्ते रविश भइया,
तनिक इहू पर नजर डालें

राष्ट्र का निर्माण कर

रक्तजनित शब्द हैं, रक्तबीज स्तब्ध हैं,
देश रक्त में नहा, आज क्रान्तिबद्ध है ।

शमन आज संधि का , वमन अग्निशंख का,
पंक्ति तोड़, राह मोड़, जल रहा स्वदेश है ।

अटल नहीं अट्टालिका, जला दे कार्यपालिका ,
ध्वंस कर विध्वंस कर, जला दे राष्ट्रपालिका ।

कठिन समर, रवि प्रखर, नरमुंड ले प्रयाण कर,
रक्त अंजुली में भर, तू राष्ट्र का निर्माण कर ।             

राजेश अमरनाथ पाण्डेय 
06.08.2012

Bhanu Fuloria said...

Sirji m aapse puri tarah sehmat hu. Par vicharrakhne ka tarika b kuch mayne rakhta h ki nhi?? Aesa thode ki kuch b hag diya? Jaesa aksar spamming dikhai pad raha h aajkal..

yahan influence wali baat nhi hai.. Platform bhala hi kitna chota ho ya bada par ye to sarasar loktantr ka hijavk hua.. Koi kuch b bola to use videshi bata do bas. Desh ka dushman bana do!

Rahi baat desh ka acha chahne ki to desh ki vartman sthithi k lie jitna ki sattadhari dal hai utna hi jimmedar vipaksh bhi hai.. Kaam hi kya. hua sansad m bhala itne saal m? Jo dono ko mil julkar karna hota tha wo kar dete nahi to bin baat k latka dete..! Aesa kan taq chalega? Lolak bana dia h janta ko! Abhi idhar bhago fir jab hum loot lenge tab udhar chale jana! Khaer.. Nitin ji aapse nivedan hai bhasha ka khayal rakhiye. Aesa likhkar ya to aap bjp ko badnam karna chah re. Shubh chintak to kahin se nhi lagte!!

sourabh singhai said...

Dear ravish
Twitter pe wapas aajao varna mujhe fb pe friend ban lo pls
Srbhsngh378@gmail.com
Regards

Rajat Jaggi said...

RAVISH JI UPAR COMMENTS PADH KE LAG RAHA HAI KI UNN "500 CRORE" KA KUCH HISSA AAPKE BLOG PE GALIAN DILWAANE MEIN BHI USE HO RAHA HAI :P


sima said...

Look like, Qasba has been hijacked by aliens!

Those who shout the loudest have no chance to get wise.

Freedom does not mean a choice to say any-which-thing you like, but it is to be free from ones fear and ones arrogance. Can freedom even begin if YOU cannot question what YOU like?

Manoj Beniwal said...

कुत्छ लोग एक ही आँख से चीज़ो को देखते ह वो ही लोग रविश जैसे निसभाव लोगो को इसलिए गली देते ह

Manoj Beniwal said...

कुत्छ लोग एक ही आँख से चीज़ो को देखते ह वो ही लोग रविश जैसे निसभाव लोगो को इसलिए गली देते ह

ramchandra tiwari said...

बिल्कुल सही पहचाना आपने महोदय । पर आपकी अपील व्यर्थ ही जाएगी - देख लीजियेगा ।और संसद में इस बार और शोर शराबा और अभद्र टिप्पड़िया होंगी , इसका नमूना आप इस ब्लाग पर देख ही रहे हैं।

Mahabir Rawat said...

सर क्यों गाली सुनते हो। आप के लिए लोग क्या क्या कह जाते हैं। दुःख होता है। बीजेपी के लिये लिखो तो कोई और गाली देगा ।इनको लगता है कि आप जिसकी तरफ जाओगे जीत उसकी होगी। क्योकि आप सब से अलग हो। ईमानदारी से काम करते हैं। बाकी जिनको खुद पर भरोसा नहीं है वे ही ऐसा कर रहे है।

Gopal Girdhani said...

रवीश सर को इन अभद्र टिप्पणियों से कोई फर्क नही पड़ता है । वो एक निष्पक्ष पत्रकार हैं । आप उनसे असहमत हो सकते हैं लेकिन ऐसी भाषा का प्रयोग उचित नही ।