प्रधानमंत्री वेट कर रहे हैं- बाबा की गुमटी

बाबा फिर से अपनी गुमटी में आ गए हैं । संसद का किस्सा लेकर । हुआ क्या कि युवा सांसद सचिन पायलट ने जनहित के मुद्दे पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से मुलाकात की । मगर ये मुलाकात अधूरी रह जाती क्योंकि कोई तस्वीर खींचने वाला नहीं था । आखिर सांसद जनता को क्या सबूत देता । क्या कहता कि तुम्हारे मुद्दे पर प्रधानमंत्री से मिला हूं । प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी राजनीति के इस दर्द को समझ गए । युवा सांसद को कहा- जाओ फोटोग्राफर लेकर आओ, मैं इंतज़ार करता हूं । अब सांसद बाहर दौड़े । मिल गए एनडीटीवी के कैमरामैन नरेंद्र गोडावली । सांसद ने कहा यार कोई फोटोग्राफर दिला या तू ही चल । नरेद्र ने कहा मैं वीडियोग्राफर हूं । फोटो कहां से खींचू । फिर युवा सांसद का धीरज जवाब देने लगा । नरेंद्र गोडावली से बोले कुछ कर । बिना फोटो इस मुलाकात का क्या करूंगा । नरेंद्र दो सौ मीटर तक दौड़कर इंडियन एक्सप्रैस के एक वरिष्ठ छायाकार को लेकर आए । अनिल चलो प्रधानमंत्री इंतज़ार कर रहे हैं । सुनकर अनिल घबरा गए । बेचारे अनिल को लगा कि नरेंद्र मज़ाक कर रहा है । नरेद्र ने कहा तुम चलो । कोई मज़ाक नहीं । पीएम वेट कर रहे हैं । अनिल बोले आज तक तो बुलाया नहीं । वेट क्यों भई ? नरेद्र ने समझाया- युवा सांसद की प्रधानमंत्री से मुलाकात की तस्वीर उतारनी है । अनिल को देखते ही सचिन पायलट की जान में जान आई । कल या किसी दिन राजस्थान के अखबार में सचिन पायलट और मनमोहन सिंह की मुलाकात की तस्वीर देखियेगा तो क्रेडिट बाबा को भी दीजिएगा । बाबा की गुमटी न होती तो कस्बा के पाठकों को मुलाकाती तस्वीरों का राज़ कभी न पता चल पाता । कलयुग में ऑफ रिकार्ड को ऑन रिकार्ड करने का समय आ गया है बच्चा । यह बोल कर बाबा चले गए हैं ।

6 comments:

Raag said...

यार आप कमाल हो, हम आपके फैन हो गए।

Jitendra Chaudhary said...

सही है बाबा जी।

यार संसद के अंदर तो बहुत कुछ होता होगा, जो बाहर नही आता (मतलब आफ़ द रिकार्ड) उसकी चटपटी जानकारी तो पाठकों को मिलनी ही चाहिए। ये टीवी पर मुस्कराते चेहरे वाले राजनेता, देख देख कर जनता भी ऊब गयी है। कुछ अन्दर के राज खोलो प्रभु।
एक और बात पूछनी थी, स्टूडियो मे मायवती, मुलायम और श्रीप्रकाश जैसवाल को एक साथ कैसे साधते हो? कोई वाक्या याद हो तो बताना।

Anil Dubey said...

baba apki gumti ke paan khakar humhu mast ho gaye hain.jara agli baar beena lagayen to tulsi aur 300 jarur dal den.nahi to banaras ka kattha ho to sadi patti bhi chalegi.

संजीत त्रिपाठी said...

बढ़िया, आफ़ द रिकार्ड तो बहुत कुछ होता है। अगर आप यहां लाते रहें तो साधुवाद

ravish kumar said...

बाबा की गुमटी पर प्रतिक्रियाएं आ रही हैं । बाबा ने भी वादा किया है कि इस कलयुग में सब कुछ ऑन रिकार्ड होगा । वो संसद और सियासत के गलियारे से रिकार्ड उठा कर लाते रहेंगे जिन्हें कस्बा में बजाया जाएगा ।

रवीश कुमार

irfan said...

Its Amazing Ravish.... har baar hum aapsey kuchh naye ki umeed kartey hain.. aur har baar aap kuchh naya latey hain...

keep it up...

Regards,
Irfan