शादी में नहीं बुलाया तो क्या हुआ-हम तो कवर करते हैं

आज न्यूज़ चैनल किसी शादी का वीडियो अल्बम लग रहे थे। ग्राफिक्स आर्टिस्टों की मदद से धोनी को शेरवानी से लेकर पगड़ी तक पहना दी गई थी।जिन पंडितों,ज्योतिषियों को धोनी की कुंडली बांचने का मौका न मिला वो स्टुडियो में आकर धोनी और साक्षी की जन्मपत्री बांच रहे थे। बता रहे थे कि गज़ब का संयोग है। जोड़ी निभेगी। अगर टूटेगी तब इन ज्योतिषियों के साथ क्या इंसाफ होगा मालूम नहीं। शायद लाइब्रेरी से निकाल कर ये टेप प्ले किये जायेंगे। देखो झूठा निकला ये ज्योतिष। आजकल लोग कई बार शादियां करते हैं इसलिए ऐसा कह रहा हूं।

ग्राफिक्स आर्टिस्टों ने क्या आइडिया निकाला। ये और बात है कि नाम आइडिया उत्पादक संपादकों का होगा। न्यूज़ रूम में कई लोग गुटका चबाते हुए कहेंगे कि ये फ्रेम मेरा आइडिया था और इस वाले का आइडिया मैंने दिया था। बीच में कोई शरारती किसी के आइडियो को अपना बताकर माहौल गरमा देगा। जैसा कि हर शादी में होता है। एकाध बाराती भड़क जाते हैं। बस मैं यह चाहता हूं कि बारात लौटे तो न्यूज़ चैनलों को इस कामयाबी में प्रोड्यूसर और ग्राफिक्स डिज़ाइनर गुमनाम न रह जाए। विनीत कुमार को ग्राफिक्स आर्ट और टीवी पर भी कुछ लिखना चाहिए।

हर देश में सेलिब्रिटी की ज़िंदगी खबर है। टाइगर वुड्स की बेवफाई पर अमेरिकी अखबारों को उठा कर देख लीजिए। हमारे हिन्दी चैनलों की तारीफ होनी चाहिए। एक शादी पर लोगों ने कितने एंगल निकाले। आजतक ने कपिल देव और मदनलाल को बिठाकर चर्चा की। कपिल से उनकी शादी की चर्चा की। लगता है धोनी ने कपिल पा को नहीं बुलाया फिर भी कपिल पा जी ने धोनी की तारीफ की कि बिना सूचना के शादी की। धोनी ने दिखावा नहीं किया। एंकर ने लेडी लक की बात कही। देखना है साक्षी से शादी धोनी को विश्वकप दिलाएगा या नहीं। बेचारी साक्षी। अगर इंडिया हार गया तो सब कहीं यह न कहने लगे कि मनहूस निकली साक्षी। इसी के कदम पड़े धोनी के जीवन में और कप हाथ से निकल गया।

आम तौर पर दूल्हों को मालूम नहीं होता कि कितनी देर घोड़ी पर बैठे। आजतक ने बताया कि धोनी पांच मिनट तक घोड़ी पर बैठे। विक्रांत के सवाल के जवाब में मदन लाल ने कहा कि मैं तो घोड़ी पर पांच मिनट से ज्यादा बैठा था। दोस्तों ने घोड़ी से उतरने नहीं दी। आज तक की यह चर्चा लाजवाब रही। कपिल पा जी ने कहा कि इस दिन को कोई नहीं भूलता। उसके बाद तुरंत गाना बजा दूल्हे का सेहरा सुहाना लगता है, दुल्हन का तो दिल दीवाना लगता है। नुसरत साहब के इस गाने से मजा आ गया।

तभी आजतक पर बारात से लौटा घोड़ी वाला फ्रेम में एंटर करता है। हिन्दी पत्रकारिता के किसी भावी स्मार्ट रिपोर्टर की तरह। उसने जो आंखें देखा हाल बयान किया उस पर अलग से लिखा जाना चाहिए। थोड़ा सा लिख देता हूं। आजतक ने घोड़ीवाले से बात की। बताया कि जॉन अब्राहम को बराबर से देखा। वो घोड़ी के बराबर खड़े थे। डांस किसी ने नहीं की। इंग्लिश गाने ही बजे। घोड़ी वाला भी पत्रकार की तरह बता रहा था कि और शादी में एक घंटा लगता है लेकिन इसमें तो मुश्किल से पांच मिनट नहीं लगे। सभी रिपोर्टर हंसने लगे। उसकी बातों से ऐसा लगा कि रिपोर्टरों ने उसे तैयार कर भेजा था कि बॉस ये ये चीज़ें देखकर आना और फिर बताना। किसी रिपोर्टर ने यह भी पूछ दिया कि खाना खाया तुमने। घोड़ी वाले ने कहा कि खाना नहीं खाया। कैसा कप्तान निकला अपना। घोड़ीवाले को बिना खिलाये भेज दिया। काहे का सेलिब्रिटी भइया। हेडलाइन बनाना चाहिए था कि कैसा निकला रे तू माही,खाना भी नहीं खिलाया घोड़ी वाले को।

शादी के सारे वीडियो अल्बम में इस्तमाल होने वाले गानों को सभी चैनलों ने बजाया। एक बार एक बैंड वाले से पूछा था कि एक गाना बताओ जो तुम गरीब से लेकर अमीर तक की शादी में बजाते हो। तो उसने कहा था कि आज मेरे यार की शादी बजाए किसी शादी से नहीं लौटा हूं। आज तक ने इसकी जानकारी दी। एनडीटीवी इंडिया के थोड़े से कवरेज में फार्मेट वीडियो अल्बम वाला ही था। बैकग्राउंड में वही गाने बजे। आज तक के विक्रांत ने कहा कि करोड़ों दर्शक जानना चाहते हैं कि शादी में किस तरह का माहौल है। जवाब में रिपोर्टर ने बताया कि फैन्स काफी दुखी है। आज तक का कवरेज थोड़ा चटकदार और चटकीला लगा। कपिल और मदन लाल की मौजूदगी अलग लुक दे रहा था।

आईबीएन सेवन ने बताया कि धोनी मांगलिक है। सुपर लगा था कि किस्मत की साक्षी। वही बात जो गांव घरों में लोग लड़की को तरसाते हैं। देखो तुम्हारी किस्मत अच्छी है इसलिए इंजीनियर से शादी हो रही है। धोनी से शादी न होती तो न जाने साक्षी की किस्मत क्या होती। खैर यह बताया गया कि धोनी मांगलिक हैं। कुंडली के बारहवें ग्रह में मंगल है। इसलिए शादी से पहले खूब पूजा हवन हुए।

आज के कवरेज पर अलग से लिखा जाना चाहिए। हिन्दी न्यूज़ चैनलों के पास आइडिया की कमी नहीं। नैतिकतावादी बहस करेंगे,रोयेंगे कि देखो पत्रकारिता का क्या हाल हो गया है। वैसे धोनी शादी नहीं करते तो भगवान जाने रविवार का दिन कैसे कटता। मुझे इसी बात का अफसोस रह गया। धोनी सोमवार को शादी करते तो बीजेपी के भारत बंद की बैंड बज जाती। एक विजुअल तक नहीं चलता। महंगाई की मारी जनता टीवी पर धोनी की शादी में मुंह मारती रह जाती। अब भी चांस है। अगर धोनी और साक्षी कल एक सेकेंड के लिए मीडिया के सामने आ जाएं तो मैं भी देखता हूं महंगाई मुद्दा है या माही।

स्टार न्यूज ने खूब कवरेज की। साक्षी के हुए माही,रांची में दीवाली और देहरादून में बारात आदि सुपर लगाए। यहां भी वीडियो अल्बम की तरह डिजाइन बनी थी। दिलाकार वाले खांचे में धोनी और साक्षी को फिट कर दिया गया था। रांची में दोस्तनुमा लफंगों को नाचते हुए दिखाया गया। धोनी रांची में शादी करते और लोकल बाराती होते तो इसी तरह के डांस होते। रिसोर्ट में भागकर धोनी ने उन्हें मौका नहीं दिया तो क्या हुआ स्टार ने कमी पूरी कर दी। हिन्दुस्तान की जनता भी ग़ज़ब है। मिठाई बांटने लगी। बच्चे गुलाल लगाने लगे। क्या जश्न था। जितना रिसोर्ट में नहीं होगा उतना न्यूज चैनलों पर था। भोपाल की दामिनी का मैसेज सरक रहा था कि धोनी तुम दोनों साथ रहो। देश भर से बधाई संदेश भेजे रहे थे। ऐसा नहीं था न्यूज चैनल ही बैंड बजा रहे थे। पब्लिक भी एसएमएस के ज़रिये धोनी की खबरिया बारात में नाच रही थी।

स्टार न्यूज़ ने शादी में बजा पहला गाना सुनाया। पंजाबी गाना था कि तैनू दूल्हा किन्ने बनाया भूतनी के। इस गाने को डीजे ने बजाया। जिस पर क्रिकेटर थिरके। दीपक चौरसिया ने इसे बिजली संकट से जोड़कर अपना टच दे दिया। कहा कि कैप्टन कूल की शादी है और यहां बिजली नहीं है। स्टार न्यूज के अनुसार धोनी ने काली शेरवानी पहनी थी लेकिन आज तक पर घोड़ी वाला बता रहा था कि शेरवानी क्रीम कलर की थी। स्टार के अनुसार साक्षी ने भूरे रंग का लहंगा पहन रखा था। स्टार न्यूज़ ने यह भी बताया कि आइये सुनाते हैं वो दूसरा गाना जिसे डीजे ने बजाया। नगाड़ा नगाड़ा बजा। अरे भाई आज मेरे यार की शादी कब बजा या बजा की नहीं,कोई बतायेगा। आजतक के अनुसार बजा था। स्टार के अनुसार तो पहले दो गानों में नहीं था। स्टार का तुर्की वा तुर्की कवरेज शानदार था। लेख लिखते वक्त दीपक चौरसिया ने मेरी आवाज सुन ली और अपने चैट में कह दिया कि लगता है कि आज मेरे यार की शादी ज़रूर बजाया गया होगा। श्योर नहीं थे लेकिन कोई बात नहीं। जवाब तो दिया न। मैं भी यह लेख लाइव रिपोर्टिंग देखकर साथ ही साथ लिख रहा था।

महेंद्र सिंह धोनी ने क्या समझ रखा है टीवी पत्रकारों को। बारात में इज्ज़त से नहीं बुलायेंगे तो ख़बर नहीं मिलेगी। हिन्दी न्यूज चैनलों ने दिखा दिया कि धोनी बंद कमरे में भी शादी करते तो भी लाइव कवरेज करने और दिखाने की ताकत हैं उनमें। कोई नहीं समझेगा कि हिन्दी के पत्रकार किस दबाव में किस तरह डिलिवर करते हैं। देखना दिलचस्प होगा कि टीआरपी की लड़ाई में बाज़ी कौन मारेगा। यह भी अंदाज़ा लगता है कि न्यूज़ चैनल किस लेवल पर कंपटीशन करते हैं। सारे चैनलों ने शानदार और मज़ेदार कवरेज किए। सब एक से बढ़कर एक। मजा आया। यही न्यूज़ चैनल थे जिन्होंने ऐश्वर्य और अभिषेक की शादी का कवरेज तो किया था लेकिन इतना शानदार नहीं। हो सकता है कि मैं स्मृति लोप का शिकार हो गया हूं मगर माही-साक्षी के कवरेज में वो भी संडे के दिन,इतने कम नोटिस पर जो कवरेज का स्तर था(अच्छा या बुरा वो सेमिनार में बोलूंगा)लाजवाब था। हिन्दी पत्रकारिता ने आज शादी काल गढ़ दिया। अब आगे से शादियां इससे भी बेहतर और व्यापक पैमाने पर कवर की जायेंगी। यह लेख भी शायद यही सोचकर लिख रहा हूं कि भावी संपादक रेफरेंस के तौर पर देख सकेंगे कि क्या क्या हुआ था और उन्हें नया क्या क्या करना है।

आज मैं उन नैतिकतावादियों में शामिल नहीं हूं जो पत्रकारिता के खत्म होने का मर्सिया पढ़ रहे होंगे। जिसकी मौत कई साल पहले हो चुकी है उस पर रोज़ रोज़ मर्सिया पढ़ कर क्या फायदा। न्यूज़ चैनलों की इस शादी के बारात में शामिल हो जाइये वर्ना कोई नौकरी भी नहीं देगा। धोनी की शादी बड़ी ख़बर तो है ही। लेकिन यही खबर है अब यह विषय फालतू हो चुका है। इस होड़ में इंग्लिश चैनल वाले भी थे लेकिन उनका कवरेज थर्ड क्लास रहा। सारी कुलीनता धरी की धरी रह गई। हिन्दी के रिपोर्टर की तरह उन्हें बारात में घुसने का रास्ता नहीं मालूम था शायद। अगर यह सब बाज़ार के दबाव में हुआ तो यह कहना चाहिए कि दबाव में चैनलों ने अच्छा काम किया। तालियां।

64 comments:

Rangnath Singh said...

पहले आती थी हाले दिल पे हँसी...अब किसी बात पे नहीं आती.....

काजल कुमार Kajal Kumar said...

क्या कहूं.
कुछ कहते नहीं बन रहा.
:-)
इतना ही काफी है.

सतीश पंचम said...

रवीश जी,

आप अब घर जाकर भोजन ओजन कर लिजिए....अभी बारात बैठ रही है...जयमाल ओयमाल हो रहा है....भोजन लगने में अभी समय है :)

btw

बढिया लिखा है....मन से लिखी गई पोस्ट है।

सतीश पंचम said...

और हां....जिस तरह से आज सारे चैनलों ने धोनी विवाह पर नंगई मचाई है उसे देख कर मैं इतना ही कहूँगा कि -

- पत्रकारिता चँप रही है -

चँप रही है इसलिए क्योंकि उसे TRP और मानसिक दिवालिएपन ने एक तरह से चँपने ( कुचले / मसले जाने )पर मजबूर कर दिया है।

Raju Neera said...

सच है, नौकरी करनी हैं तो कुछ यही अंदाज़ होगा और संपादक जो कहे सो जय हो. बाकी जो बचे उससे चाहो जो कह लो.

apne-apne ajnabi said...

1.5-2 mahine pahhle hui sania-shoaib ki shadi ka experience kaaam aaya channel walon ke, itna express aur geodekha tha ki, doosre desh me kis tarah se is tarah ki khabron ko handle karte hain, samajh aa gaya.

1 aur baat ravish ji aaj office se nikalte waqt maine yunhi mazaq me apne sahyogi se kaha ki 10 barati to apne yahan se hi ho gaye, unka jawab tha barati kahan ke pattal uthane wale gaye hain, pata nahi kyon accha laga.

bhala ho adhunik samaj ka ki pattal ka prachlan khatm ho gaya, plates shuru ho gaye fibre ke, nahi to joothi pattalon ke dher par baithkar reporter ko walkthrough karna padta, producer se gali sunna padta wo alag ki tumne aisi pattal kyon nahi chuni jisme kyhana bacha hue tha, taki menu par bhi 1 std-gphx chalaya ja sake

Sarvesh said...

"ye desh hai veerr javaano kaa
alabelo kaa mastaano kaa"
Ye baja ki nahin?

alok ranjan said...

बात वही पुरानी है सर... बुधवार का खौफ तो करीब-करीब हर हिंदी चैनलों में छाया रहता है... अब तो टैम वालों ने नया हथकंडा अपना लिया है.. चैनल संपादकों के होश गुम करने के लिए... पहले तीन दिन की टीआरपी भिजवा देते हैं.. और उसके बाद संपादक अगले चार दिनों तक नए-नए आइडिया ढूंढते हैं कि आज दर्शकों को कैसे फंसाया जाए... दर्शक इंसान ना हुए मछली हो गए... बंसी में रोज़ नया कुछ लगाओ तब जाकर मछली फंसे... धोनी की शादी में चैनल वाले दीवाने हुए तो उन बेचारों की कोई गलती नहीं है... क्योंकि सबको तो यही डर लगा रहता है कि अगर ना दिखाया तो टीआरपी की दौड़ में पीछे रह जाएंगे...

PD said...

ताली...ताली...ताली... :)

chanakya said...

सर जी अभी तो सिर्फ शादी हुई है ...रिसेप्शन ...हनीमून ...बहुत कुछ बाकी है उसमें भी रिसेप्शन सात जुलाई धोनी के जन्मदिन के दिन होना है ...इसने तो चार चाँद लगे दिए हैं इस मौके पर .....पिक्चर अभी बाकी है मेरे दोस्त ..............आगे आगे देखिये होता है क्या ?

Tushar Mangl said...

sahi likha ravish ji, end ki lines bahut pasand ayi.

राजीव जैन Rajeev Jain said...

वाह

यानी आप आज घर पर ही सारी नौटंकी देख रहे थे


जो जो छूट गया था देखने से आपने सब बता दिया

pratibha said...

बहुत निकले अरमान...फिर भी कम निकले...

Vivek Rastogi said...

बहुत अच्छा लिखा है आपने, हम तो धोनी फ़ीवर के मारे न्यूजचैनल पर गये ही नहीं, नहीं तो दिन में एक बार थोड़ी देर के लिये जरुर जाते हैं, बहुत दिनों बाद डीडी न्यूज देखी, परम आनंद की अनुभूति हुई, और फ़िर उसके पहले देखी वार्ता: संस्कृत समाचार आत्मा प्रसन्न हो गई, वो तो भला हो भारत सरकार का कि दूरदर्शन अभी तक सरकार के कब्जे में है नहीं तो पता नहीं वो भी और चैनलों जैसा बुद्धु बना रहा होता।

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

लगता है खबरों की कमी है।

Rishikesh azad said...

ये समय के अनुसार पतित पत्रकारिता हैं और कुछ नहीं .

Maneesh Pandey said...

lajavab ravishi ji.

मुनीश ( munish ) said...

@"न्यूज़ रूम में कई लोग गुटका चबाते हुए कहेंगे कि ये फ्रेम मेरा आइडिया था और इस वाले का आइडिया मैंने दिया था।" Thats the cruX rest is trash ! I request you to write something on " Role of Rajdarbar & Shikhar gutkha in 21st century Hindi News world : A comparative study in continuity"

mukesh said...

बेगानी शादी में मीडिया दीवाना ... धोनी की शादी की कवरेज ने दर्शकों के सर में दर्द ही किया होगा ... किस हद तक उतर आया हैं यह लोकतंत्र का चौथा स्तम्ब ! कभी धोनी का घोड़ी वाला इसके लिए बड़ी खबर है तो कभी धोनी की शेरवानी का रंग .... मीडिया के मठाधीश कब इस से खुद से अलग करेंगे कब फिर से पत्रकारिता होगी ... ख़बरों में खेलने के नाम पर कब तक यह बेहूदा खेल चलता रहेगा ... मीडिया की साख आज पर्यटकों के पीछे पड़ने वाले दलों जैसी हो गयी है जो उन्हें कमीशन के चक्कर में किसी खास होटल या दूकान में ले जाना चाहते हैं और पर्यटक उनसे बच निकलना चाहते हैं ... धोनी की शादी के नाम पर मीडिया ने जो किया इतनी जलालत झेली वो शर्मनाक !!!! अफसोसजनक !!!!! चिंताजनक !!!!!

jay said...

sahi hai

mukesh said...
This comment has been removed by the author.
jay said...

maujuda media ko lathad diya aapne,sahi baat hai aajkal news channels khaskar hindi bhashhi news dikhane ka kaam kum karte hai aur darane ka kaam jyada karte hai.

डॉ .अनुराग said...

अरे !अभी तो आधी इंडियन टीम कुँवारी है

कुलदीप मिश्र said...

हाहाहा! कल न्यूज़ चैनल देखते हुए मैं अपने बड़े भैया से कह रहा था कि काश इस पर रवीश जी को पढने का मौक़ा मिले. आपने लिखा और क्या सटीक लिखा. आनंद आ गया. सबसे अच्छी बात ये वाली लगी.
वैसे धोनी शादी नहीं करते तो भगवान जाने रविवार का दिन कैसे कटता। मुझे इसी बात का अफसोस रह गया। धोनी सोमवार को शादी करते तो बीजेपी के भारत बंद की बैंड बज जाती। एक विजुअल तक नहीं चलता। महंगाई की मारी जनता टीवी पर धोनी की शादी में मुंह मारती रह जाती। अब भी चांस है। अगर धोनी और साक्षी कल एक सेकेंड के लिए मीडिया के सामने आ जाएं तो मैं भी देखता हूं महंगाई मुद्दा है या माही.

और हाँ, अंत में एक निवेदन और- मुनीश भाई के सुझाव को गंभीरता से लीजिएगा. :)

बिक्रम प्रताप सिंह said...

फीफा-फीफा करते-करते सब फूंक गए थे। रूनी-काका-मैसी जैसे तीन-चार नाम मुश्किल से मालूम थे लेकिन ये सब तो बाहर हो गए। हॉलैंड, उरुग्वे जैसी टीमों के बारे में जानकारी काफी कम। कौन इतना सर्च-रिसर्च कर खबरे बनाए। इसलिए धोनी ने दिया बढिया मौका। फीफा से बाहर आने का। वैसे ही जैसे मानसून आने से गर्मी से थोड़ी राहत मिलती है।

gorgia said...

Ravish kumarji, aap bahut hi kammal ki report banate hai, taano se bhari :)...abhi tak to ndtv par hi dekha tha aapko ab yaha to aur bhi sakshat mil gaye...likhate rahiye, bahut khub.

imnindian said...

cool man atleast u have accepted it.

शोभना चौरे said...

कितने ही शादी के गाने बजा दिए हो चैनलों ने पर हम तो जब तक ये गाना नहीं बजता "बहारों फूल बरसाओ,मेरा महबूब आया है ,मेरा महबूब आया है "शादी को पूरा नहीं मानते |

Harsh said...

raveesh ji aapka koi jvaab nahi hai...... bemisaal... dhoni kii shadi par bhii lekhni chala dii... wah...
gaav, gujjar aur gotra par bhii lekhni chalayiye........intjaar hai nayi post isi par hogi....

स्वाति said...

rochak aur sahi likha hai aapne..

वन्दना अवस्थी दुबे said...

वाह! क्या बात है. सैलिब्रिटीज़ के व्यक्तिगत मामलों को लेकर मीडिया का उतावलापन और दखलंदाजी सचमुच हास्यास्पद हो गई है.

Shishir singh said...

शानदार सर! आपने तो ऐसे लिखा जैसे कोई ताबड़तोड़ शतकीय पारी खेली जा रही हो। बस पढ़ता ही चला गया।

chandan said...

बहुत खूब रवीश जी, वैसे सलेब्रिटीयों की शादी आजकल मंडप में नहीं मीडिया में होती है.

Rangnath Singh said...

http://vipakshkasvar.blogspot.com/

मनोज कुमार said...

अच्छी प्रस्तुति।

VARUN GAGNEJA said...

RAVISH JI, KABHI FAIZ NE LIKHA THA
"AUR BHI GHAM HAIN ZAMANE MEIN MOHABBAT KE SIWA, RAAHATEIN AUR BHI VASL KI RAHAT KE SIWA, MUJHSE PEHLI SI MOHABBAT MERE MEHBOOB NA MAANG. IN KATHIT SITRON KI BAAT KAREIN TO SACHIN TENDULKAR KE ILAWA KOI BHI ROLE MODEL NAHI HAI. THE STRONG FOUNDATION OF EVERY STATE RESIDES ON THE EDUCATION OF ITS YOUTH BUT NOW A DAYS A MESSAGE IS BEING FORWARDED IN ITS CORRUPT STATE 'PADHOGE LIKHOGE TO HOWOGE KHRAAB, KHELOGE KUDOGE TO BANOGE NWAAB." FANS PARESHAN THE KYUNKI MAAHI KI JHALAK NAHI MILI PAR INHI FANS KO KISI RACHNATMAK KAAM KE LIYE KABHI DESPERATE NAHI DEKHA. AUR ANT MEIN DIL KI BAAT....
"AE PRESS TERE ANJAAM PE RONA AAYA, BAAT NIKLI TO HAR IK BAAT PE RONA AAYA. KYUNKI MAAHI KI SHADI KE ILAWA KUCH AUR BHI HAI JISKO UTMOST COVERAGE CHAHIYE. UMMED HAI , AAP BHI MUJHSE MUTTAFIQ HONGE
ALLAH HAFIZ

JC said...

इसे 'समय की गुलामी' कहते हैं...

krishankikatha said...

sahi me....

dhoni ne achhha hua jo jadi shaadi kar li...

barna infotenment ban chuke news chnanal.....jab tak shadi nahi ho jaati.......tab tak unke peeche hi pade rahte...


captain cool......aapka bahut bahut Dhanyabad

krishankikatha said...

sahi me....

dhoni ne achhha hua jo jadi shaadi kar li...

barna infotenment ban chuke news chnanal.....jab tak shadi nahi ho jaati.......tab tak unke peeche hi pade rahte...


captain cool......aapka bahut bahut Dhanyabad

prakashmehta said...

:)

नितिन | Nitin Vyas said...

वाह वाह! मेनू में क्या क्या था किसी ने कवर किया कि नहीं?

मुनीश जी की बात पर ध्यान दिया जाये

Ajay said...

Please change the color combination of primary theme. red on blue is not eye friendly.

soni garg said...

pehli baar pada hai aapko अब lagta hai har baar padna chaiye ................

अनुराग मुस्कान said...

...पत्रकारिता भले ही मर चुकी हो.... लेकिन आप अमर हैं...!

आशीष मिश्रा said...

to
ajab daud hai gajab daud hai, kee yeh jindagee yaro daud hai
koyee agge te koyee pichchhe kee, agadam bagadam daud hai
paise dee hai daud o loggo, pyar dee hai bas hod ho loggo

paise dee hai daud o loggo, pyar dee hai bas hod ho loggo
daud danadan daud hai hai daud he he daud
ajab daud hai gajab daud hai, kee yeh jindagee yaro daud hai
koyee agge te koyee pichchhe kee, agadam bagadam daud hai

e duniya hai ai duniya aide lakkh jhamele ne
ban jande hai kee dassa takht-o-taj tabele
teree lassi chhipayi thand khani oyi
ghanachakkar karan manamani oyi
daud dhanadhan daud daud dagadag daud

ajab daud hai gajab daud hai, kee yeh jindagee yaro daud hai
koyee agge te koyee pichchhe kee, agadam bagadam daud hai

paise dee hai daud, o loggo pyar dee hai bas hod ho loggo - (2)
daud danadan daud hai, hai daud he he daud

panga ya phir hai danga kee manda kee hai changa
koyee sant fakir hai ya toh billa ranga
badee allhad nigodee badee qatalan dee pyasee
rabba kaisee banayee, bairee duniya siyasee

daud daud daud daud daud.............

ajab daud hai gajab daud hai, kee yeh jindagee yaro daud hai
koyee agge te koyee pichchhe kee, agadam bagadam daud hai

paise dee hai daud, o loggo pyar dee hai bas hod ho loggo - (2)
daud danadan daud hai, hai daud he he daud, daud daud daud

बेचैन आत्मा said...

kuchh adhik lamba khinch gaya...shaadi to jldi nipat gai thi..!

Anurag Geete said...

आप ये कैसे भूल गये की अभिषेक ऐश्वर्या की शादी के बात न्यूज़ रिपोर्टर सानिया शोएब की शादी भी निपटा चुके है... और उसमे भी काबिले तारीफ कवरेज था, सच पूछिए तो वहा का एक्स्पीरिएंस ही यहाँ काम आया है.

Jitendra Chaudhary said...

मीडिया वालो के लिए क्या कहें, यही फिट बैठता है:
"तुम अगर बुलाओ तो कवर करेंगे, नही बुलाओगे तो भी कवर करेंगे। क्या करें आदत से मजबूर हैं।"

JC said...

'स्टिंग ओपेरेशन' से डर अब सब सेलेब्रिटी मीडिया वालों से डरने लगे हैं!

मुनीश ( munish ) said...

Sorry for a grave omission-- Jayanti Gutkha , along with Rajdarbar & Shikhar, is also playing an important role in taking forward the World of Hindi News .
These brands also enjoy the patronage of technicians from all English News channels just as chewing gum is a favourite with their anchors !

सहसपुरिया said...

बेगानी शादी में मीडिया दीवाना ...

Parul said...

ravish ji kaam ko dil lagakar karna ek baat hai par khabar ko charr karna dusri..kuch channels ne aise hi faltu ke kaam kiye..phir kehte hai na "kis had se gujar jate hai vo dekho mohabbat mein" :)

संगीता पुरी said...

सही रिपोर्टिंग तो आपने की है .. रिपोर्टिंग की रिपोर्टिंग !!

Pankaj Upadhyay (पंकज उपाध्याय) said...

तालियां...

प्रेशर सिचुएशन को भी कितनी आसानी से झेल गये सारे न्यूज चैनल्स.. लाजवाब..

pawan lalchand said...

Ravish Bhai ye koi pahla mouka nahi hai jab media ne begani shaadi mein abdulla diwana wali kahawat sahi sabit ki hao..sania mirza ne balcony mein khjadi hokar fon par kisse kaisi kiski design ki dress pahan kar bat ki sab dekh chuke hain..Abhi-Ash ki shaadi bhi karayee the media ne..list untheen hai...aise samay mouka mile aur sambhav ho to kabhi DD Bharti dekh liya karein...

lokendra singh rajput said...

मैं नहीं देख पाया था की टीवी मीडिया ने क्या गुल खिलाये धोनी की शादी पर ... अभिषेक-ऐश की तो देख ली थी...
आपकी पोस्ट ने सब दिखा दिया क्या हुआ होगा और कैसे....

Anoop Aakash Verma said...

raveesh ji ko saadar pranaam....bhai ji aap to khud hi is baat ko smjh rahe hai ab ham kyaa kahe....darshako ki yahi to majburi hai...kuchh kah nahi sakataa bas dekh sakataa hai...so dekh raha hai...

SACHIN KUMAR said...

THATS WHY SHARAD YADAV WAS SO ANGRY...BUT GOOD THING WAS THAT THIS WEDDING JUST TOOK PLACE BEFORE THE BHARAT BAND. ON MANY CHANNELS IT WAS EXCLUSIVE AS WELL..WHAT TO SAY ABOUT THE POSTS...SIMPLY THE BEST.....

Prashant said...

भाई, फिर से मज़ा आ गया, फिर एक नयी चाट परोसने के लिए धन्यवाद, इस तरह की हास्यास्पद कवरेज करने वाले पत्रकारों के अंतर-मर्म को भी दर्शायें आगामी पोस्ट में..

deepakkibaten said...

Sir ji ek shikayat hai. apke blog par heading ka jo color hai wah bahut chubhta hai ankhon me, plz ise change kar dijiye.
Vaise padhkar maja aa gaya. main to pahle se hi aapka fan hoon, iss post ne dil me aapke liye izzat aur badha di. Vaise sach bataun to "Koophi me yehan bhang padi hai." sabse majedar baat ki aapne khud bhi yeh sab swikar kiya.

पश्यंती शुक्ला. said...

माफ कीजिएगा सर कुछ याद करने से चूक गए इस बार आप...याद कीजिए सानिया शोएब की शादी वो बात नहीं थी न वो स्तर था कवरेज का.....वो तो एक मैराथन कवरेज थी..26/11 FAIL.

Kunal Verma said...

मैँने पहली बार आपका ब्लॉग पढा,पढकर दिल बाग-बाग हो गया।मैँने भी अपना एक ब्लॉग बनाया है,आप पढेँगे तो अच्छा लगेगा।
http://kunalkumarverma007.blogspot.com

Abhishek Anand said...

Sir jee..NDTV pe bhi Ghodi waale ka interview dekha maine..

I was really disappointed..

TRP is makinng u dance on it as well.

shabd nirantar said...

dilli kai baar gaya aur thahra bhi pahadgunj ke hotel mein hi .pahle booking ya i card ka jhamela nahin tha .ab hai ,lekin is baar gaya to aapki report ke aadhar par pahadgunj ghuma ,rickshew par baitha ,aap kabhi ranchi aayen jharkhand ko bhi cover karen