एंग्री गणेशन का फरमान- रानी, विवेक,सलमान

विवेक राय और सलमान खा कहां हैं ?
इनकों भी ऐश की शादी में बुलाओ
समझ में नहीं आता क्या
दो आदमी से खाने के प्लेट कम हो जाएंगे
अमित अमर और अनिल तुम्हारे पास दो प्लेट के पैसे नहीं हैं ?
इतनी बड़ी गाड़ी में नाचने आते हो ?
इनके लिए घर से ही खाना लेकर आ जाते
आखिर इन लोगों ने ऐश से प्यार नहीं किया ?
इन्होंने भी तो ऐश का ख़्याल रखा
उसके साथ ख़्वाब देखे
अभिषेक से पहले ऐश को किसने संभाला
और रानी को क्यों नहीं बुलाया
किसी ने उसके सपने में झांका है क्या
जहां अभिषेक आता जाता है ?
ये क्या हो रहा है ?
रानी का तो सारा ब्लैक था
किसने उसे गुस्से से व्हाईट किया
मुझे बहुत गुस्सा आ रहा है
एंग्री गणेशण के गुस्से से बचो तुम लोग
सबको बुलाओ...पैसे की चिंता मत करो
पैसा मुलायम देगा ।

(दिल्ली के रेडिये एफएम पर एंग्री गणेशन एक कार्यक्रम आता है । उसमें एंग्री गणेशण गुस्से के ज़रिये व्यंग्य करता है । उसी से प्रेरित होकर आज अभि ऐश की शादी के मौके पर यह मौलिक संवाद लिखा गया है ।)

6 comments:

अभय तिवारी said...

एंग्री गणेशन मुम्बई रेडियो पर भी आता है.. और शायद रेडियो पर सबसे भली लगने वाली आवाज़ उसी की है..उसके सुर में कुछ भी कहा जाय सुरीला ही लगता है..

Pramod Singh said...

शुभ मौके पर ये कैसा बेसुरीला राग छेड़े हुए हैं आप.. आपको शर्म आनी चाहिये, रवीश?.. आपके बॉस से कर दें शिकायत?.. लाइये, नंबद दीजिये, लगाते हैं फोन.. हद है? शादी-व्‍याह के दिन ऐसे खिलवाड़ करता है कोई? वेरी बैड हैबिट.. डिडन्‍ट यू गेट प्रॉपर एजुकेशन इन स्‍कूल? बिहार में पढ़ाई की?.. नाऊ डोंट हाइड यूअर रूट्स.. शेम ऑन यू.

dibang said...

dhyan den ...

aapko kya problem hai agar usne rani , salman aur shahrukh ko nahin bulaya ..sach to yeh hai ke aapkee maansikta aur kisee uday shankar kee maansikta me koi fark nahin ... aap apnee khujlee band karen ravishji aur special report banayen ...yeh peet patrakaarita se baaj aayen .

kripya is tarah kee baatein na karen

shukriya

ps: pramodji kee bat ka dhyan den

ravish said...

अरे भाई
अब यह भी होने लगा क्या ? हमारे संपादक के नाम से कोई ब्लाग खोलकर कोई उनकी नकल कर रहा है । उनके तकिया कलामों को सामने ला रहा है । यह अच्छी बात नहीं है । आगे से इस नाम की कोई भी टिप्पणी मिटा दी जाएगी । क्या है ?

nitin sukhija said...

http://nitinkimarzi.blogspot.com/

अभिषेक ऐश्वर्या की शादी में बेगाने अबदुल्लों को असलियत पता ही नहीं है. घोड़ी का नाम चाँदनी है....और इसे विदेश से लाया गया है. यूरेका के अन्दाज़ में पत्रकार ऐसा चिल्ला रहे थे... सारी जानकारी गलत है.सिर्फ नाम ही ठीक है. सूत्रों के मुताबिक ये घोड़ी सूरत से अपने आशिक के साथ सूरत से भाग के आई थी....यहाँ शादी करना चाहती थी..लेकिन न्यूज़ वाले और संस्कृति वाले पीछे पड़ गए. किसी तरह इज्ज़त बचा कर भागी. वो तो भला हो बच्चन साहब का कि उन्होने पोस्टर में से ही..बेचारी को रोते हुए देख लिया. फटा पोस्टर निकला हीरो....अबला घोड़ी की इज्ज़त बचाने के लिए. वादा किया कि शादी कराएंगे...लेकिन जब उन्हें पता चला कि घोड़े का नाम अबदुल्ला है तो माथे पर बल पड़ना लाज़िमी ही था. लेकिन वादा कर चुके थे और कायस्थ बच्चा एक बार ज़बान दे देता है तो दे देता है.नतीज़ा- अभिषेक ऐश्वर्या की शादी. किसी को कानोकान खबर भी नहीं हुई और चाँदनी और अबदुल्ला की शादी ठाकरे परिवार के सामने करा दी गई. अभिषेक ऐश्वर्या की शादी तो बस बहाना थी. जय हो बच्चनवा..जय हो समाजवाद..

Tosha said...

मैं जयदा तो कुछ नही कहूँगी ... बस इतना कहेना चाहूंगी के आप ने एश् की शादी का क़िस्सा ख़ूब सुनाया ... दिल कुश हो गया आप के पूछे उन सवालो से जिनका जवान कोई भी पत्रिका या पत्रकार नही देगा क्यूं की ... उन्हे जवाब का कोई सूत्र नही मिलेगा