चुनाव

चुनाव में वादा करना तुम भी ज़रुर
सच बोलोगो तो चुनाव हार जाओगे
अपनी जात खुद से मत कहना तुम
जात छुपाओगे तो चुनाव हार जाओगे
आयोग को पैसे का हिसाब देना ज़रुर
सब दिखाओगे तो चुनाव हार जाओगे
घर घर शीश नवाना तुम भी ज़रुर
सर उठाओगे तो चुनाव हार जाओगे

2 comments:

अविनाश said...

sir,

its great...keep it up....jaana hai dur miloen sone se pehale..sone se pehale.....

its,
pradeep

littichokha said...

अच्छा है. आपका कस्बा आबाद रहे.

शशि सिंह