सच का झूठ

मैं इनदिनों बहुत सच बोल रहा हूं
कसम झूठ की नहीं बोल रहा हूं
चुप रह कर मैं सच को तोल रहा हूं
कसम चुप की मैं सच बोल रहा हूं

2 comments:

Pratyaksha said...

बढिया !

manish said...

sach hay......! "ghar may jhooto kee ek mandi hay , darwajay per likha rakha hay such bolo, sach bolo."........manish